छोटी बहना को चोद दिया भाग ३


हम ने करीब कोई ५ मं से ज़ादा किस्सिंग की . एक दूसरे की ज़बान को मून मैं दाल केर चूसते रहे और साथ ही मेरा हाथ उस की टी शर्ट के अंदर चलता रहा चलता रहा उस के निप्पल मेरी उन्ग्लिओं मैं थे, फिर मैने उसको बाजू मैं बहर केर बीएड पैर लिटा दिया वोह बिलकुल हलकी फुल्की थी बचों की तेरह . लिटा केर भी मैं उस को किस करता रहा कभी लिप्स तो कभी चीन तो कभी नैक, मेरे होंट उस के पूरे चेहरे पैर थे और तो कभी गर्दन से होता हुआ उस के ब्रैस्ट को चूम रहा होता वोह अहिस्ता अहिस्ता आवाजें निकल रही थी आह ओह किस्म की मैने उस के ऊपरी हिस्से को उस के कपरों से आज़ाद किया और एक खूबसूरत नज़ारा देखने लगा, के किया चीज़ हाय . और फिर मैने दोनों ब्रैस्ट को हाथों मैं ले केर मसलना शुरू केर दिया कभी दबाता तो कभ चूसता तो कभी चाट-ता उस दिन जो मज़ा मुझे मिल रहा था वोह अल्फाज़ मैं बयान नहीं किया जा सकता, फिर मैने उस का बारीक पजामा नीचे किया तो उस की छूट नज़र आने लगी . पजामा उतेर्ने की वजह से वोह काफी शर्मा रही थी जिस पैर मुझे और भी पियार आने लगा और मैं ने उस को अपनी अघोष मैं भींच लिया और एक बार फिर किस्सिंग करने लगा इस तेरह उस की शर्म कुछ दूर हुई तो मैं उस की छूट से खेलने लगा .

उस की छूट बहुत टाइट और छोटी सी थी और उसकी गोरी रंगत की वजा से बिलकुल पिंक थी और उस पैर हाफ इनचेस के करीब बाल भी थे जिस वजह से वोह और भी अची लग रही थी . . मैने अपनी फिन्गेर्स को उस पैर फिरना शुरू किया तो वोह मचलने लगी . फिर मैने उस की छूट लुब(लेबिया मजोर) को ऊँगली की मदद से खोला तो अंदर का सुर्ख हिस्सा नज़र आने लगा . तो मैने अपनी ऊँगली उस मैं दाल दी और उस को अहिस्ता से हरकत देने लगा, जिस पैर वोह और भी ज़ादा मचलने लगी . और बोली के भाई अब बर्दाश्त नहीं होता . मुझे उस के जिस्म से खेलने मैं मज़ा आरहा था और मैं छह रहा था के ज़ादा से ज़ादा उस को टाइम दे सकूं और आज की रात को यादगार रात बना दूं . फिर मैं अपना मून उस की छूट के पास ले गया तो मुझे एक अजीब सी स्मेल लगी मगेर उस स्मेल मैं भी मज़ा था और अपने होंट उस की छूट पैर रख दिये तो वोह तर्राप उठी और अपने हाथों से मेरा सर पाकर लिया .

जब तक मैं अपनी ज़बान उस की छूट मैं दाल चूका था . मुझे एक अजीब तेरह का टेस्ट महसूस हुआ मगेर किओं के मैं जज्बात मैं था के में अपनी छोटी बेहें की छूट को देख, सूंघ और चाट रहा हूँ इस लिये वोह भी अच लगने लगा और मैं ने और तेजी से उस को चाटना शुरू करदिया . और उस की आवाज़ मैं अहिस्ता अहिस्ता से तेजी आती जा रही थी . तो मैंने कहा के बस गुरिया थोरा सा सबेर करो असल मज़ा तो अब आय गा तुम को जब मैं अपना लूँ तुम्हारी इस प्यारी सी छोटी छूट मैं डालूँ गा . तो कहने लगी के ज़ुहैब भाई जल्दी करो जो करना है मुझ से बर्दाश्त नहीं हो रहा . तो मैंने भी अपनी शॉर्ट्स उतर दिया . मेरा लूँ बिलकुल ताना हुआ खरा था जिस को देख केर उस ने अपनी आँखों पैर हाथ रख लिया तो मैने कहा के यह किया बात हुई तुम भी तो देखो वरना मज़ा केसी आएगा और मैंने उस का हाथ पकेर्र केर अपने लूँ पैर रख लिया तो उस ने भी अपनी ग्रिफ्ट मज़बूत केरली और घोर से लूँ को देखने लगी जैसे कोई बचा किसी नए खिलोने को देखता है हैरत और ख़ुशी और शर्म भरी निगाह से .

जब मैने उस को कहा के इस को अपने मून मैं लो तो उस ने मन करदिया के भाई यह मुझ से नहीं होगा लेकिन आप कह रहे हो तो बस मैं एक बार इस को किस केर लेती हूँ और फिर उस ने बहुत ही पियार से मेरे लूँ की टोपी को किस किया और साथ ही एक लम्हे के लिए अपनी जुबान ही उसे लगे . जिस से एक मुनफ़रिद सुरोर हासिल हुआ . एक बार फिर मैने उस के होंटों पैर अपने होंट गार्र दिये और मम्मों को मसलने लगा फिर मैं ने अपना लूँ उस की छूट पैर बहुत आराम से रखा के वोह मेरी अपनी बेहें हाय और जब मैंने थोरा सा अपना लूँ अंदर डाला तो वोह दर्द से कराहने लगी . और मेरा लूँ भी आगे नहीं जा रहा था . मिने अपना लूँ मर्रिं के मून के पास किया और उसे कहा के इस पैर बोहत सारा थूक लगाओ, उस ने हेइरत से मेरी तरफ देखा मगर कुछ न बोली और मून से ढेर थूक बनाया और मेरे लूँ पैर लगा केर अपने सॉफ्ट गोरे हाथों से सारे लूँ पैर मॉल दिया, ऐसा उस ने दो बार किया .

जब अची तरह मेरे लूँ पैर थूक लूग चूका तो मैने कहा के अब में अंदर डालूँ गा तो तुम्हारी सील टूट जय गी और तुम को दर्द भी होगा और मैं तुम को तकलीफ मैं नहीं देख सकता क्या तुम इस के लिए तैयार हो . तो उस ने कहा के भाई जब यहाँ तक आय हैं तो फिर बाकी क्या बचा हाय अब जो होगा देखा जय गा आप अपना काम करो तो मैंने फिर एक झटके से अपना लुंड अंडर दाल दिया जी से वोह आधा अंदर चला गया और मेरी बेहें की चीख निकलते निकलते रह गई के मैने उस के मून पैर तकिया रख दिया था . एक और झटके के बाद मेरा लूँ पूरा अंदर जा चूका था मुझ को बहुत म्हणत करनी पेर्री किओं के उस की चोट एक दम टाइट थी अब मैं ने कुछ इस तेरह की सेटिंग बना ली थी के मेरा लूँ उस की छूट मैं था और उस की टांगें मेरे शोल्डर पैर और मैं उस के मम्म को दबाता हुआ उस केहोंत भी चूस रहा था इस तेरह मुझ को यिक साथ की मजे आ रहे थे और मेरी सेक्स की तस्कीन भी हो रही थी . अब मुझ को कुछ थकन महसूस हो रही थी तो मैं सीधा हो केर लेट गया और उस को अपने लूँ पैर बेथ केर ऊपर नीचे होने का कहा, अब उस की शर्म भी निकल चुकी थी और वोह किसी एक्सपर्ट की तेरह बेहवे केर रही थी,

इतनी तसवीरें जो देख चुकी थी जो मिने उसे भेजी थीं . जब वोह ऊपर होती तो उस के मम्मी हल्के से सुकेर्तय और नीचे आते है जोर से हिलते, यह एक बेहतरीन नज़ारा था . फिर मैने अपना हाथ उस के मम्मो पैर रख दिया और उस ने अपनी गार्डन पीछे दाल दी एसा करने से उस के मम्मी ऊपर की तरफ खिंच गए तो मैंने निप्प्लेस को ऊँगली और अंगूठे से मसलना शुरू करदिया एसा करने से उस की हिलने की स्पीड और तेज़ हो गई और मुझे उस की छूट मैं से पानी निकलता हुआ महसूस हुआ तो मैं ने अपना लूँ बहार निकल लिया, अब मैं भी छूटने ही वाला था इस लिये मैं बीएड पैर खर्रा हो गया और उस को कहा के मेरी मुठ लगे तो उस ने बीएड पैर घुटनों के बल बेथ केर अपने दोनों नर्म प्यारे नाज़ुक हाथों से मुठ लगाना शुर्रो करदी और साथ ही लूँ को चाटना भी शुरू केर दिया शायद अब वोह झिझक महसूस नहीं केर रही थी के अचानक लूँ मैं से मोनी(सीमेन) निकल केर उस के चेहरे पैर पारी और कुछ ज़बान पैर भी गई जिस पैर उस ने बुरा सा मून बना केर उसे साफ़ किया तो मैने फ़ौरन अपने होंट उस के होंटों पैर गार्र दिये और इस तेरह उस का मूड भी अच हो गया . उस के बाद हम काफी देर एक साथ लेते रहे नंगी हालत मैं उस का सर मेरे सीने पैर था और उसका एक हाथ मेरे लूँ पैर अहिस्ता अहिस्ता मस्सगे केर रहा था . और मेरा हाथ उस के मम्मों पैर . इस तेरह हम ने पूरी रात मैं कई मर्तबा यह खेल खिला .

(TBC)…


error:

Online porn video at mobile phone


family sexy storygand ka sexonline hindi sexy storieschut ki tasvirchachi k sath sexwww marathi sex stories compunjabi sixychudai story of bhabhideshi ladki ki chutchudai ki kahani pakistanibehan ki chut ki kahanijabardasth sexcg chudaihindi free sex storyhindi me ladki ki chudaidevar chudai kahanibhai behan chudai photoanjan se chudaichudai comics in hindipahli bar sexteacher chudai storynew bus sexsex story hchodai ki khani combhabhi ko hotel me chodachodne ki kahani in hindi fontteacher ki jabardasti chudaihindi chudai sexvideshi chut photomalkin ki chut maridesi sex kahani in hindiindian college sex storieshindi sexy chootpapa ne chudai kimastram ki chudai kahani hindime chudirape chudai storypatni ki chudai ki kahanibhabi sex bhabi sexantarvasna xxxhindi sxe storischudai kahani papamaya ki chutantarvasna chudai hindi storygroup chudai kahanichut ki kahani hindi mechudai ki kahani bhai behan kijangal girl sexvasna chudaibf gf sex storiessexy store hindisexy kahani bhai behanantarvasna com inindian brother pornwww xxx storykutta sex kahanichut chodte hueaap ki kahanichudai ke fotohindi sexy kahanyasex kahani in hindi languagelund chut ki hindi storypyar meindian aunty gandnew antarvasnabhabhi ko chodne kahindi chudaichùdaidesi hindi saxhindi desi sex khaniyasaali ki chudai kahanihindi mai sex storybhabhi ki chudai ki hindi storiessalwar me gaandmastram sexhindi bahan chudaisexy adult kahaniyaporn stories in hindi languagechudai special kahanisex and fuck hardpatni ki chudai ki kahanichut ki pelaichut ma loda